केवल आंखों की रोशनी ही नहीं, विटामिन ए की कमी से इम्युनिटी भी होती है कमजोर, ऐसे करें इस कमी को पूरा

Vitamin A Foods: मीट, मछली और अंडे में विटामिन ए पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है। इसके अलावा, दूध व इसके उत्पादों में भी विटामिन ए पाया जाता है।

Vitamin A Deficiency: कोई भी व्यक्ति पूरी तरह से स्वस्थ तभी रह सकता है जब उसके शरीर में तभी प्रकार के पोषक तत्वों की पूर्ति होती है। बॉडी में किसी भी न्यूट्रिएंट की कमी लोगों को बीमार बना सकती है। यही कारण है कि स्वास्थ्य विशेषज्ञ लोगों को संतुलित आहार लेने की सलाह देते हैं ताकि उनके शरीर में सारे पोषक तत्व पहुंच सके। अक्सर लोगों को लगता है कि विटामिन ए की कमी से आंखों की दृष्टि प्रभावित होती है। ऐसे में बचपन से ही अभिभावक अपने बच्चों को साग-सब्जी ज्यादा खिलाने की कोशिश करते हैं। पर बेहद कम लोगों को इस बात की जानकारी है कि सम्पूर्ण बॉडी फंक्शन्स के लिए भी शरीर में विटामिन ए का पर्याप्त मात्रा में होना जरूरी है। आइए जानते हैं कि इसकी कमी से लोगों को क्या-क्या परेशानियां हो सकती हैं –

कमजोर होती है इम्युनिटी: जिन लोगों के शरीर में विटामिन ए की कमी हो जाती है, उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी कि इम्युनिटी भी कमजोर होती है। विशेषज्ञों  के अनुसार शरीर में वाइट ब्लड सेल्स के उत्पादन और फंक्शन के लिए विटामिन ए जरूरी होता है। बता दें कि ब्लड में मौजूद पैथोजेन्स से लड़ने में WBC अहम भूमिका निभाते हैं। एक अध्ययन के अनुसार विटामिन ए की कमी न केवल लोगों में किसी भी संक्रमण का खतरा बढ़ाती हैं, दूसरों की तुलना में इन्हें ठीक होने में भी अधिक समय लगता है।

आंखों की रोशनी: विटामिन ए की कमी से कई लोग रतौंधी (Night Blindness) से भी पीड़ित हो जाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि रेटिना तक जो रोशनी पहुंचती है उसे दिमाग तक सिग्नल के रूप में तब्दील करने के लिए विटामिन ए की जरूरत होती है। इसकी कमी से ये प्रक्रिया पूरी नहीं हो पाती जिससे दृष्टि पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

कम होता है कैंसर का खतरा: शरीर में अगर विटामिन ए पर्याप्त मात्रा में मौजूद होते हैं तो इससे सर्वाइकल, लंग्स और ब्लैडर कैंसर का खतरा कम होता है। ऐसे में लोगों को बीटा-कैरोटिन जो कि विटामिन ए का ही एक रूप है, उसका सेवन जरूर करना चाहिए।

हड्डियों के लिए जरूरी: कई लोग ऐसा सोचते हैं कि मजबूत हड्डियों का संबंध केवल कैल्शियम और विटामिन डी से ही है, हालांकि ये पूरी तरह से सही नहीं है। एक स्टडी के मुताबिक जिन लोगों में विटामिन ए की कमी होती है, उनमें बोन फ्रैक्चर का खतरा दूसरों की तुलना में अधिक होता है।

डाइट में इन्हें करें शामिल: विटामिन ए एक ऐसा पोषक तत्व है जिसे शाकाहारी और मांसाहारी दोनों अपने भोजन से पा सकते हैं। मीट, मछली और अंडे में विटामिन ए पर्याप्त मात्रा में मौजूद होता है। इसके अलावा, दूध व इसके उत्पादों में भी विटामिन ए पाया जाता है। गाजर, टमाटर और पालक, बथुआ जैसी पत्तेदार सब्जियों में भी विटामिन ए की अधिकता होती है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *