ज्यादा चीनी खाने से नहीं होती Blood Sugar, करेले के जूस से कर सकते हैं कंट्रोल? जानें एक्सपर्ट्स की राय

ब्लड शुगर कंट्रोल करने के लिए आपको डाइट में कुछ बदलाव करने होंगे। ऐसा माना जाता है कि ज्यादा चीनी खाने से ब्लड शुगर होती है। जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स-

डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर का स्तर बहुत तेजी से बढ़ने लगता है। ऐसे में बहुत जरूरी है कि आप कुछ चीजों का परहेज करें, जिससे आपके शरीर में प्रोड्यूस हो रहे इन्सुलिन से ब्लड शुगर कंट्रोल हो सके। कई बार देखा जाता है कि लोग कम मीठे वाली चीजों का सेवन करने की सलाह देते हैं। ऐसे में करेले और घीये का जूस सबसे आम है। जिसको लेकर माना जाता है कि इसका सेवन करने से ब्लड शुगर कंट्रोल हो जाती है। आज हम आपको ऐसे ही कुछ मिथक के बारे में बताएंगे कि सच में इनका सेवन करने से कंट्रोल हो जाती है ब्लड शुगर?

डॉक्टर छवि कोहली बताती हैं, ‘इंटरनेट पर आप लोग सुनते हैं कि करेले और घीये का जूस पीने से डायबिटीज कंट्रोल हो जाएगी, लेकिन इन सब चीजों का वैज्ञानिक प्रमाण मौजूद नहीं है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप डायबिटीज कंट्रोल ही नहीं कर सकते। दूसरा सबसे बड़ा मिथक है कि ज्यादा चीनी खाने से ब्लड शुगर होती है, लेकिन इसका सीधा कनेक्शन डायबिटीज से नहीं है। बल्कि खराब जीवनशैली के कारण डायबिटीज होती है। इससे वजन बढ़ने लगता है और डायबिटीज का खतरा भी बढ़ जाता है।’

घरेलू उपचार: डॉक्टर कोहली की मानें तो आपको डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए ज्यादा से ज्यादा सब्जियों का सेवन करना चाहिए। आपको सीजन के अनुसार इस्तेमाल होने वाली सब्जियों का सेवन जरूर करना चाहिए। आपको ज्यादा से ज्यादा सब्जियां सलाद के रूप में खानी चाहिए। अगर ऐसा करना आपके लिए संभव नहीं है तो आप स्टीम करके भी सब्जियां खा सकते हैं। दूसरा, आपको अपनी डाइट में प्रोटीन को जरूर शामिल करना चाहिए। अगर आप शाकाहारी हैं तो आप दाल या पनीर ले सकते हैं।

मांसाहारी लोग अपनी डाइट में अंडे या चिकन शामिल करें। क्योंकि आपकी मांसपेशियों के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी होता है और ये आपके शरीर में ज्यादा इन्सुलिन प्रोड्यूस करने में मदद करता है। अब जो सबसे जरूरी चीज आती है वो है- वर्कआउट। आपको वर्कआउट पर सबसे ज्यादा ध्यान देना चाहिए। सबसे आसान है कि आप रोज़ाना खाने के बाद वॉक करें। अगर ज्यादा बैठने का काम है तो बीच-बीच में थोड़ा ब्रेक जरूर लेते रहें। इसके अलावा साइकलिंग भी शरीर को एक्टिव रखने में काफी मदद करती है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *