66 लाख के पार देश में देश में COVID-19 केस, 83% नई मौतें 10 सूबों/UT से

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा है, “जुलाई 2021 तक 20-25 करोड़ भारतवासियों को COVID-19 वैक्सीन की पहली खेप पहुंचाई जाएगी।”

भारत में कोविड-19 के मामले सोमवार को 66 लाख के पार पहुंच गए। वहीं, 55,86,703 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद देश में मरीजों के ठीक होने की दर 84.34 प्रतिशत हो गई। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार देश में एक दिन में कोविड-19 के 74,442 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 66,23,815 हो गई। वहीं, पिछले 24 घंटे में 903 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,02,685 हो गई।

आंकड़ों के अनुसार देश में अभी 9,34,427 मरीजों का कोविड-19 का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 14.11 प्रतिशत है। कोविड-19 से मृत्यु दर 1.55 प्रतिशत है। भारत में कोविड-19 के मामले सात अगस्त को 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख, पांच सितम्बर को 40 लाख, 16 सितम्बर को 50 लाख और 28 सितम्बर को 60 लाख के पार चले गए थे।

Donald Trump Health News LIVE

भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार देश में चार अक्टूबर तक कुल 7,99,82,394 नमूनों की जांच की गई, जिनमें से 9,89,860 नमूनों की जांच रविवार को हुई। आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में जिन 903 लोगों की मौत हुई, उनमें से सबसे अधिक 326 लोग महाराष्ट्र के थे। इसके अलावा कनार्टक के 67, तमिनाडु के 66, पश्चिम बंगाल के 62, उत्तर प्रदेश के 52, पंजाब के 41, आंध्र प्रदेश के 40, दिल्ली के 38 और मध्य प्रदेश के 35 लोग थे।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक वायरस से कुल 1,02,685 लोगों की मौत हुई है। इनमें सर्वाधिक 38,084 लोगों की मौत महाराष्ट्र में हुयी है। इसके बाद तमिलनाडु में 9,784, कर्नाटक में 9,286, उत्तर प्रदेश में 6,029, आंध्र प्रदेश में 5,981, दिल्ली में 5,510, पश्चिम बंगाल में 5,194, पंजाब में 3,603 और गुजरात में 3,496 की मौत हो चुकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि संक्रमण से मरने वालों में से 70 प्रतिशत से अधिक मरीज दूसरी बीमारियों से भी पीड़ित थे। मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर कहा, ”हमारे आंकड़ों का मिलान आईसीएमआर से किया जा रहा है।’’

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *